असफलता का बल Motivational quotes

असफलता का बल  –  आपके जीवन में असफलता इसलिए आती है ताकि आप अपनी इच्छा की पुन : रचना करें । जो भी इच्छा आपने रखी है , उसमें जब असफलता आती । तब आप में थोडा जोश आ जाता है कि नहीं , अब तो सफलता पानी ही है । 

anxiety Yong boy , motivation quotes storykhajana.blogspot.com


जब तक उस इच्छा में जोश नहीं आता तब तक आप कहते रहते हैं कि ‘ हाँ . । सब हो जायेगा . . . मिल जायेगी सफलता . . . ऐसी भी क्या जल्दी है . . . यह तो । चलता रहता है । मगर असफलता मिलने पर आपकी इच्छा को बल मिलता है और आप कहते हैं , ‘ अब मैं फलाँ काम सफल करके ही दिखाऊँगा । ‘ आपके साथ जो भी नकारात्मक घटना हो रही है , वह आपको आगे बढ़ाने के लिए हो रही है । असफलता भी संपूर्ण सफलता पाने की तैयारी है । कुदरत के द्वारा हमें जो मार्गदर्शन मिल रहा है , उसे समझते यानी डिकोड करते हुए आगे बढ़ते जायें । आगे बढ़ने के लिए समझ की आँख से हर घटना और असफलता को देखें । जब आप नया काम शुरू करते हैं तब अपने कान और आँख को खुला रखें । इसका अर्थ है आप ज्यादा सजग रहें । 

                                                                                                असफलता को कैसे देखें

नये कार्य और प्रयोग करते – करते कई लोगों को कई बार असफलता का सामना करना पड़ता है । ऐसे में उदास होने की बजाय अपने आपको याद दिलायें कि आपको असफलता से घबराना नहीं है । रबर की गेंद का उदाहरण । हमेशा याद रखें । रबर की गेंद जब ज़मीन पर गिरती है , तब वह तुरंत ऊपर उछलती है । उसी तरह जब हमारे जीवन में कठिन परिस्थिति आती है तो हम उस परिस्थिति का सामना गेंद की तरह करें । उस परिस्थिति से सीखकर अगली बार के लिए तैयार रहें । यदि ऐसा हो पाये तो आपने सही तरीके से छलाँग लगाना सीख लिया है । 

 सोने को आग में जितना तपाया जाता है , उतना ही सोना निखरता जाता है । वैसे ही जीवन में जितनी ज्यादा तकलीफें आप देखते हैं , उतनी ही ज्यादा उन्नति आप कर पाते हैं । अगर आपमें समझ है , आपने अपना नजरिया बदला है तो हर असफलता को आप अपनी कामयाबी की सीढ़ी बना पायेंगे क्योंकि मुसीबतें और रुकावटें आपके अंदर छिपी हुई शक्तियों को जगाने में मदद करती हैं । असफलता विकास की आशा को बल देती है इसलिए असफलता को समझ की आँख से देखें । ‘ असफलता हमें असुरक्षित और असफल कर देगी ‘ , इस नासमझी से मुक्ति पायें । इसी मुक्ति का साक्षात्कार करने के लिए अगले अध्याय का पठन करें ।

You May Also Like

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *